राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना क्या है: Rashtriya Parivarik Labh Yojana MP

राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना क्या है: Rashtriya Parivarik Labh Yojana MP

राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना क्या है: Rashtriya Parivarik Labh Yojana MP -: मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के गरीब नागरिकों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से सभी नागरिकों को लाभ प्रदान किया जाएगा, जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करते हैं। राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना एमपी के माध्यम से आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। जिनके परिवार के मुखिया की मृत्यु किसी कारणवश या अन्य किसी दुर्घटना के कारण हो जाती है, ऐसे परिवार को मध्य प्रदेश सरकार द्वारा 20000 से 40000 रुपए तक की एकमुश्त राशि प्रदान की जाएगी। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना एमपी से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराएंगे। तो बन रहे हमारे साथ इस आर्टिकल के अंत तक।

राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना क्या है: Rashtriya Parivarik Labh Yojana MP
राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना क्या है: Rashtriya Parivarik Labh Yojana MP

राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना क्या है?

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के उन परिवारों के लिए राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना एमपी को शुरू किया गया है जिनके परिवार के मुखिया की किसी कारणवश मृत्यु हो जाती है, तो ऐसी स्थिति को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना के तहत पीड़ित परिवार को ₹20,000 से लेकर ₹40,000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। यह आर्थिक सहायता गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले पीड़ित परिवार को एकमुश्त राशि प्रदान करती है। राज्य सरकार द्वारा यह योजना ग्रामीण क्षेत्र के साथ-साथ शहरी क्षेत्र में भी लागू की गई है। इस योजना को राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम के अंतर्गत लागू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत परिवार के कमाने वाले सदस्य चाहे पुरुष हो या महिला उनके आकस्मिक मृत्यु होने पर परिवार के अन्य सदस्यों को भरण पोषण करने के लिए सहायता के रूप में वित्तीय राशि का लाभ प्रदान किया जाता है।

इस योजना का उद्देश्य क्या है?

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना मध्य प्रदेश को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के आर्थिक रूप से गरीब परिवार को वित्तीय सहायता प्रदान करना है। जिसके परिवार में आय अर्जित करने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो गई है और इसके अलावा मृतक के परिवार में आय के साधन अर्जित करने वाला कोई अन्य सदस्य नहीं है, तो ऐसी स्थिति में पीड़ित परिवार को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसलिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मृतक के परिवार को इस योजना के तहत ₹20000 से लेकर ₹40000 की एकमुश्त राशि सहायता प्रदान की जाती है। ताकि मृतक के परिवार को कुछ सहायता प्राप्त हो सके और इस योजना के तहत वित्तीय सहायता प्राप्त कर पीड़ित परिवार को कुछ हद तक राहत मिल सके।

इस योजना के लाभ क्या है?

  • राज्य के गरीब परिवारों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना मध्य प्रदेश को शुरू किया गया है।
  • इस योजना का लाभ राज्य के गरीब एवं बीपीएल श्रेणी के अंतर्गत जीवन यापन करने वाले परिवारों को दिया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से परिवार में आय अर्जित करने वाले व्यक्ति की मृत्यु होने पर पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से मृतक के परिवार को ₹20000 से लेकर ₹40000 की एकमुश्त राशि का लाभ दिया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत परिवार में किसी भी कमाने वाले सदस्य के मृत्यु होने पर चाहे वह पुरुष हो या महिला मृतक के परिवार को लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • पीड़ित परिवार को मृतक व्यक्ति की मृत्यु होने के 30 दिन के भीतर इस योजना के तहत आवेदन करना होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत मृत्यु के 45 दिनों के अंदर ही पीड़ित परिवार के सदस्य के अकाउंट में योजना से मिलने वाली धनराशि को भेज दिया जाता है।
  • 18 साल से 60 साल तक की आयु वाले प्रत्येक व्यक्ति के परिवार को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाता है।
  • राज्य के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले बीपीएल परिवारों को इस योजना में शामिल किया गया है।
  • सरकार द्वारा प्रदान किए जाने वाले आर्थिक सहायता राशि का लाभ प्राप्त कर पीड़ित परिवार अपनी आर्थिक जरूरत को पूरा कर सकता है।

इस योजना के लिए पात्रता क्या है?

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए मृत व्यक्ति को मध्य प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए।
  • मृतक का परिवार गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करता हो।
  • राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना मध्य प्रदेश के लिए मृतक की आयु 18 साल से 60 साल के बीच होनी चाहिए।
  • विवाहित व्यक्ति की मृत्यु होने पर मृतक की पत्नी अविवाहित लड़की या माता-पिता आवेदन करने के लिए पात्र होंगे।
  • अविवाहित व्यक्ति की मृत्यु होने पर मृतक के भाई-बहन या माता-पिता आवेदन कर सकते हैं।
  • पीड़ित परिवार मृतक व्यक्ति की मृत्यु के 30 दिन के अंदर योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए पात्र होंगे।

इस योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या है?

  • आधार कार्ड
  • बीपीएल प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • मृत्यु प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • अगर व्यक्ति की मृत्यु दुर्घटना से हुई है, तो मृत्यु के संबंध में FIR की फोटो कॉपी

इस योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको सामाजिक न्याय एवं दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग मध्य प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट https://socialjustice.mp.gov.in/ पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको दायित्व के ऑप्शन पर क्लिक कर सामाजिक सहायता के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने सामाजिक सहायता के अंतर्गत योजनाओं की सूची आ जाएगी।
  • आपको योजना सूची में राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने राष्ट्रीय परिवार सहायता का आवेदन फॉर्म पीडीएफ फाइल के रूप में खुल जाएगा।
  • अब आपको इस आवेदन फार्म को SAVE के ऑप्शन पर क्लिक कर इसका प्रिंटआउट निकाल लेना होगा।
  • आपको इस आवेदन फार्म में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको आवेदन फार्म में मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों को फॉर्म के साथ संलग्न करना होगा।
  • यदि आप शहरी क्षेत्र के नागरिक है, तो आपको यह आवेदन फार्म नगर निगम, नगर पालिका, नगर पंचायत में जाकर जमा कर देना होगा।
  • यदि आप ग्रामीण क्षेत्र के नागरिक है तो ग्राम पंचायत, जनपद कार्यालय में जाकर जमा कर देना होगा।
  • इस प्रकार आपकी राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना मध्य प्रदेश के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

यह भी पढ़े :

राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना क्या है?

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के उन परिवारों के लिए राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना एमपी को शुरू किया गया है जिनके परिवार के मुखिया की किसी कारणवश मृत्यु हो जाती है, तो ऐसी स्थिति को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना के तहत पीड़ित परिवार को ₹20000 से लेकर ₹40000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। यह आर्थिक सहायता गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले पीड़ित परिवार को एकमुश्त राशि प्रदान करती है।

राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना उद्देश्य क्या हैं?

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना मध्य प्रदेश को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के आर्थिक रूप से गरीब परिवार को वित्तीय सहायता प्रदान करना है।

इस योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या है?

आधार कार्ड
बीपीएल प्रमाण पत्र
आयु प्रमाण पत्र
मृत्यु प्रमाण पत्र
बैंक खाता विवरण
पासपोर्ट साइज फोटो
अगर व्यक्ति की मृत्यु दुर्घटना से हुई है, तो मृत्यु के संबंध में FIR की फोटो कॉपी

Leave a Comment