पीएम कुसुम योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन: PM Kusum Yojana Online Registration Last Date

पीएम कुसुम योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन: PM Kusum Yojana Online Registration Last Date

पीएम कुसुम योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन: PM Kusum Yojana Online Registration Last Date -: पीएम कुसुम योजना को आरम्भ करने का मुख्य उद्देश्य किसानों को सिंचाई के लिए सौर ऊर्जा से चलने वाले सोलर पंप प्रदान करना हैं। इस योजना के तहत केंद्र सरकार व राज्य सरकार 3 करोड़ पेट्रोल और डीजल सिंचाई पम्पों को सौर ऊर्जा पम्पों में बदलेगी। देश के जो किसान सिंचाई पम्पों को डीजल या पेट्रोल की मदद से चलाते है अब उन पम्पों को इस पीएम कुसुम योजना के अंतर्गत सौर ऊर्जा से चलाया जाएगा। इस योजना के पहले चरण में देश के 17.5 लाख पम्प जो डीजल और पेट्रोल से चलते है उन्हें सोलर पैनल की सहायता से चलाया जाएगा।

पीएम कुसुम योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन: PM Kusum Yojana Online Registration Last Date
पीएम कुसुम योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन: PM Kusum Yojana Online Registration Last Date

पीएम कुसुम योजना क्या हैं?

पीएम कुसुम योजना का उद्देश्य किसानों को लागत में कटौती करने और कमाई बढ़ाने में मदद करना हैं। इसमें किसानों के खेतों में सौर पम्प स्थापित करना शामिल हैं, जिससे उन्हें मुफ्त में बिजली पैदा करने की सुविधा मिलती हैं। इस योजना के तीन भाग हैं। कॉम्पोनेन्ट “ए” बंजर भूमि वाले किसानों को लक्षित करना हैं, हो उन्हें 5000 किलोवाट से 2 मेगावाट तक के सौर संयंत्र स्थापित करने में सक्षम बनाता हैं।

कॉम्पोनेन्ट “बी” सौर पम्प स्थापना की कुल लागत पर 60% की सब्सिडी प्रदान करता हैं, जिसमे किसानों को केवल 10% योगदान करने की जरुरत होती हैं, जबकि शेष 30% को लोन द्वारा कवर किया जा सकता हैं। इन पम्पों पर 25 साल की गारंटी हैं। कॉम्पोनेन्ट “सी” बिजली पम्प वाले किसानों को सौर ऊर्जा पर स्विच करने की अनुमति देता हैं, जिससे सिंचाई के लिए निर्बाध बिजली आपूर्ति प्रदान होती हैं।

इस योजना के लिए पात्रता क्या हैं?

  • सबसे पहले वे भारतीय निवासी होने चाहिए और कम से कम 18 वर्ष के होने चाहिए।
  • उनके पास योजना के तहत निर्दिष्ट खेती योग्य भूमि होनी चाहिए।
  • इसके अलावा यह जरूरी है कि निर्बाध लेनदेन के लिए आवेदक का आधार कार्ड उनके बैंक खाते से जुड़ा हो।
  • आवेदक के मोबाइल नंबर को उनके आधार कार्ड से जोड़ना भी उतना ही जरूरी हैं।

इस योजना के फायदे क्या हैं?

  • इस योजना का लाभ देश के सभी किसान उठा सकते हैं।
  • रियायती मूल्य पर सौर सिंचाई पम्प उपलब्ध कराना।
  • 10 लाख ग्रिड से जुड़े कृषि पम्पों का सोलराइजेशन।
  • कुसुम योजना के तहत पहले चरण में डीजल से चल रहे 17.5 लाख सिंचाई पम्पों को सौर ऊर्जा से चलाया जाएगा। जिससे डीजल खपत कम होगी।
  • अब खेतों को सिंचाई करने वाले पम्प सौर ऊर्जा से चलेंगे किसानों की खेती में बढ़ावा होगा।
  • इस योजना से मेगावाट अतिरिक्त बिजली का उत्पादन होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत सोलर पैनल लगाने के लिए सरकार की तरफ से किसानों को 60% केंद्र सरकार की तरफ से वित्तीय सहायता दी जाएगी और बैंक 30% लोन की सहायता प्रदान करेगा और सिर्फ किसान को 10 फीसदी का भुगतान करना पड़ेगा।
  • कुसुम योजना उन किसानों के लिए फायदेमंद होगी जहाँ के राज्य सूखाग्रस्त होगा व जहाँ बिजली की समस्या रहती हो।
  • सोलर प्लांट लगाने से 24 घंटे बिजली रहेगी। जिसकी वजह से किसान अपने खेतों में किसान से सिंचाई कर सकते हैं।
  • सोलर पैनल से जो अतिरिक्त बिजली बनेगी किसान उस बिजली को सरकारी या गैर सरकारी बिजली विभागों में बेच सकता है जहाँ से किसान को 1 माह की 6000 रूपए की मदद मिल सकती हैं।
  • कुसुम योजना के अंतर्गत जो भी सोलर पैनल लगाए जाएंगे वो बंजर भूमि में लगाएं जाएंगे जिससे की बंजर भूमि का भी उपयोग हो जायेगा, व बंजर भूमि से आय प्राप्त होगी।

इस योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या हैं?

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • रजिस्ट्रेशन की कॉपी
  • ऑथराइजेशन लेटर
  • जमीन की जमाबंदी की कॉपी
  • चार्टेड अकाउंटेंट द्वारा जारी नेटवर्थ सर्टिफिकेट (विकासकर्ता के माध्यम से प्रोजेक्ट विकसित करने की स्थिति में)
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो

इस योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

पीएम कुसुम योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए इन चरणों का पालन करना होगा :

  • सबसे पहले आपको पीएम कुसुम योजना की ऑफिशियल वेबसाइट के होमपेज पर जाना होगा।
  • विशेष रूप से पीएम कुसुम योजना लेबल वाले विकल्प को देंखे और उस पर क्लिक करें।
  • अब पंजीकरण फॉर्म को सटीक जानकारी के साथ भरें।
  • निर्दिष्ट अनुसार सभी आवश्यक दस्तावेज स्कैन करें और अपलोड करें।
  • अपने आवेदन को अंतिम रूप देने के लिए सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  • सबमिट करने पर आपको अपने ऑनलाइन आवेदन की रसीद प्राप्त होगी।
  • भविष्य में संदर्भ के लिए इसे प्रिंट करके रखे।
  • आपके आवेदन का मूल्यांकन किया जाएगा, उसके बाद भौतिक सत्यापन किया जाएगा।
  • अगर सत्यापन के दौरान सभी जानकारी सही पाई जाती है, तो आप इस योजना का लाभ प्राप्त करने के पात्र होंगे।
  • इन चरणों का पालन करके आप पीएम कुसुम योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

यह भी पढ़े :

पीएम कुसुम योजना क्या हैं?

पीएम कुसुम योजना का उद्देश्य सिंचाई उद्देश्यों के लिए सौर ऊर्जा का उपयोग को बढ़ावा देकर किसानो की सहायता करना हैं। यह सौर पम्प स्थापित करने के लिए सब्सिडी प्रदान करता हैं, जिससे किसानों की पारम्परिक ऊर्जा स्त्रोतों पर निर्भरता कम हो जाती हैं।

पीएम कुसुम योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

आप पीएम कुसुम योजना के लिए इसकी ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन या अपने क्षेत्र के कृषि विभाग में जाकर ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Leave a Comment