बांधकाम कामगार योजना ऑनलाइन फॉर्म, फायदे: Bandhkam Kamgar Yojana Form PDF

बांधकाम कामगार योजना ऑनलाइन फॉर्म, फायदे: Bandhkam Kamgar Yojana Form PDF

बांधकाम कामगार योजना ऑनलाइन फॉर्म, फायदे: Bandhkam Kamgar Yojana Form PDF -: अगर आप “बांधकाम कामगार योजना का फॉर्म कैसे भरें” यह जानना चाहते हैं तो आप बिल्कुल सही जगह आए हैं। महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के मजदूरों की सामाजिक एवं आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए बांधकाम कामगार योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत सरकार असंगठित क्षेत्र के कामगारों को उनके जीवन स्तर को सुधारने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करती है। यह सहायता राशि ₹2000 से लेकर ₹5000 तक होती है। बांधकाम कामगार योजना का लाभ उठाने के लिए मजदूरों को सबसे पहले कामगार पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करना होगा। अगर आप भी बांधकाम कामगार योजना का लाभ उठाना चाहते है, तो आप हमारे साथ बने रहे इस आर्टिकल के अंत तक।

बांधकाम कामगार योजना ऑनलाइन फॉर्म, फायदे: Bandhkam Kamgar Yojana Form PDF
बांधकाम कामगार योजना ऑनलाइन फॉर्म, फायदे: Bandhkam Kamgar Yojana Form PDF

बांधकाम कामगार योजना क्या हैं?

महाराष्ट्र सरकार की इमारत व कामगार कल्याण विभाग ने निर्माण कार्य करने वाले मजदूरों के कल्याण के लिए 18 अप्रैल 2020 को बांधकाम कामगार योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत पात्र मजदूरों को ₹2000 से ₹5000 तक की वित्तीय सहायता दी जाती है। यह राशि डीबीटी के माध्यम से सीधे लाभार्थी के अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाती है। अब तक इस योजना का लाभ 12 लाख से अधिक मजदूर उठा चुके हैं। जो भी पात्र मजदूर बांधकाम योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें सबसे पहले कामगार पोर्टल पर आवेदन फॉर्म भरना होगा।

बांधकाम कामगार योजना का उद्देश्य क्या हैं?

महाराष्ट्र इमारत व बांधकाम कामगार कल्याण मंडल द्वारा mahabocw.in पोर्टल को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के मजदूर नागरिकों को इस पोर्टल के माध्यम से कामगार योजना के तहत आर्थिक सहायता प्रदान करना हैं। इस पोर्टल के माध्यम से मजदूरों को अन्य सेवाओं का लाभ भी प्रदान किया जाएगा। पोर्टल का लाभ प्राप्त करने के लिए निर्माण मजदूरों को अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा। मजदूर नागरिकों को राज्य सरकार द्वारा 2000 रुपए से 5000 रुपए तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता राशि लाभार्थी के बैंक खाते में भेजी जाएगी।

बांधकाम कामगार योजना के लिए कौन पात्र हैं?

  • केवल महाराष्ट्र में रहने वाले लोग।
  • आपको कार्यकर्ता बनना होगा।
  • आपकी उम्र 18 से 60 साल के बीच होनी चाहिए।
  • आपको मजदूर कल्याण बोर्ड में पंजीकृत होना चाहिए।
  • आपको कम से कम 90 दिन तक काम करना है।

बांधकाम कामगार योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या है?

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • पहचान प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • राशन पत्रिका
  • 90 दिन कार्य करने का प्रमाण पत्र
  • बैंक के खाते का विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

बांधकाम कामगार योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

जो भी मजदूर इस योजना के लिए पात्र है, वह नीचे बताए स्टेप्स के अनुसार ऑनलाइन फॉर्म भरकर योजना का लाभ उठा सकते हैं :

  • कामगार योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • होम पेज पर workers मेनू पर क्लिक करें और workers registration पर क्लिक करें।
  • एक नया पेज दिखाई देगा जहां आपको अपनी पात्रता जचने के लिए सही जानकारी प्रदान करनी होगी।
  • सभी उपयुक्त विकल्पों पर निशान लगाए और “check your eligibility” पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपको ओटीपी सत्यापन के माध्यम से अपने पहचान सत्यापित करने की आवश्यकता होगी।
  • आप अपना जिला चुने, ओटीपी सत्यापन के लिए अपना आधार नंबर और मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  • ओटीपी सत्यापन प्रक्रिया पूरी करें।
  • एक बार सत्यापित होने पर पंजीकरण फार्म दिखाई देगा।
  • फॉर्म में सभी जरूरी जानकारी सही-सही भरे।
  • फार्म में मांगे गए सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें।
  • अंत में कामगार योजना के लिए अपना ऑनलाइन आवेदन पूरा करने के लिए “सबमिट” विकल्प पर क्लिक करें।

यह भी पढ़े :

कामगार कार्ड कैसे बनाएं?

श्रमिक लेबर कार्ड बनाने के लिए उम्मीदवार की उम्र 18 वर्ष से लेकर 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए। इसके लिए आवेदक ने पिछले वर्ष में कम से कम 90 दिनों तक कार्य किया हो, तभी उन्हें श्रमिक कार्ड बनाकर दिया जाएगा और वह आवेदन करने के लिए पात्र माने जाएंगे। श्रमिक कार्ड को ऑनलाइन कर पोर्टल पर इसे प्राप्त कर सकते हैं।

कामगार योजना में कितनी वित्तीय सहायता मिलती है?

कामगार योजना के तहत लाभार्थी मजदूरों को ₹2000 से लेकर ₹5000 तक की वित्तीय सहायता मिलती है।

कामगार योजना कब शुरू की गई थी?

कामगार योजना 18 अप्रैल 2020 को महाराष्ट्र सरकार द्वारा शुरू की गई थी। इस योजना का उद्देश्य निर्माण गतिविधियों में लगे मजदूरों को वित्तीय प्रोत्साहन प्रदान करना है, जिससे मुख्य रूप से महाराष्ट्र के मजदूर वर्ग के नागरिकों को लाभ मिले।

Leave a Comment