अनुप्रति योजना क्या है, कैसे भरें: Anuprati Coaching Yojana 2024 Last Date

अनुप्रति योजना क्या है, कैसे भरें: Anuprati Coaching Yojana 2024 Last Date

अनुप्रति योजना क्या है, कैसे भरें: Anuprati Coaching Yojana 2024 Last Date -: अनुप्रति कोचिंग योजना की शुरुआत राज्य सरकार द्वारा साल 2005 में की गई हैं। अनुप्रति कोचिंग योजना के अंतर्गत राज्य के अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/ विशेष पिछड़ा वर्ग/ अन्य पिछड़ा वर्ग और सामान्य वर्ग के बीपीएल परिवारों के होनहार स्टूडेंट्स को विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाए जैसे भारतीय सिविल सेवा, राजस्थान सिविल सेवा, आई.आई.टी, आई.आई.एम, सी.पी.एम.टी, एन.आई.टी एवं राजकीय इंजीयनिरिंग एवं मेडिकल आदि में चयन की तैयारी के लिए राजस्थान सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। आइए जानते है अनुप्रति कोचिंग योजना की लास्ट डेट क्या हैं?

अनुप्रति योजना क्या है, कैसे भरें: Anuprati Coaching Yojana 2024 Last Date
अनुप्रति योजना क्या है, कैसे भरें: Anuprati Coaching Yojana 2024 Last Date

अनुप्रति कोचिंग योजना क्या हैं?

यह योजना राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना हैं। इस योजना के तहत आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रो को विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं और शिक्षण संस्थानों में प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए मुफ्त कोचिंग प्रदान की जाती हैं।

योजना का नामअनुप्रति कोचिंग योजना
संबधित राज्यराजस्थान
लाभार्थीराजस्थान के गरीब परिवार के छात्र।
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन
योजना का उद्देश्यछात्रों को 12वीं के बाद अपने पसंदीदा क्षेत्र में जाने के लिए तैयारी के अवसर उपलब्ध करवाना।
आधिकारिक वेबसाइटhttps://sje.rajasthan.gov.in/

इस योजना के माध्यम से अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा के अलग-अलग स्तर में पास होने पर SC, ST के गरीब छात्रों को राजस्थान सरकार के माध्यम से ₹100000 तक की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इस योजना के अंतर्गत जिनके माता-पिता सरकारी या प्राइवेट नौकरी कर रहे हैं, उनकी वार्षिक आय 2 लाख से कम होनी चाहिए। इन्हीं परिवारों के छात्र इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

अनुप्रति कोचिंग योजना के उद्देश्य क्या हैं?

इस योजना का मुख्य उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के मेधावी छात्रों को प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं की तैयारी के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है। इस योजना के तहत चयनित छात्रों को नि:शुल्क कोचिंग कक्षाओं, स्टडी मैटेरियल और आवास भत्ता के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इस योजना का लक्ष्य इन छात्रों को समान अवसर प्रदान करना है और उन्हें उच्च शिक्षा प्राप्त करने और सरकारी नौकरियों में सफल होने में मदद करना है।

अनुप्रति कोचिंग योजना के फायदे क्या हैं?

अनुप्रति कोचिंग योजना राजस्थान में छात्रों को कई लाभ प्रदान करती हैं। इस योजना के तहत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के वंचित छात्रों को उनकी शिक्षा को आगे बढ़ाने के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त होती हैं। उदाहरण के लिए RPSC राजस्थान लोक सेवा आयोग परीक्षा (IIT, IIM, AIMS, NIT, NLU) जैसी परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवारों को 50,000 रुपए का प्रोत्साहन मिलता हैं।

इसके अलावा जो छात्र RPMT/RPET परीक्षा पास करते हैं और सरकारी मेडिकल/इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश पाते हैं, उन्हें 1000 रुपए मिलते हैं। यह योजना कई श्रेणियों के छात्रों को सहायता प्रदान करती हैं, जिनमें BPL कार्ड वाले और अंतिम परीक्षा में 85% या अधिक अंक प्राप्त करने वाले शामिल हैं। IAS और RAS जैसी प्रारम्भिक परीक्षा पास करने के बाद भी वित्तीय सहायता जारी रहती हैं, सिविल सेवा परीक्षा के लिए 1 लाख रुपए तक का प्रोत्साहन मिलता हैं।

अनुप्रति कोचिंग योजना की पात्रता एवं योग्यताएं क्या हैं?

  • अनुप्रति कोचिंग योजना राजस्थान का लाभ लेने के लिए आपके लिए सबसे पहली शर्त यह है कि आप राजस्थान के निवासी होने चाहिए।
  • परिवार की वार्षिक आय 2 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए, यदि आपके परिवार की वार्षिक आय इस सीमा के अंदर हैं, तभी आप इसके लिए आवेदन कर पाएंगे।
  • प्रदेश के सामान्य वर्ग व अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्र जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे हैं, इसके अलावा गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति वर्ग के छात्र आदि।
  • राज्य के सरकारी मेडिकल व इंजीनियरिंग कॉलेजों की प्रवेश के लिए 12वीं कक्षा में 60% अंक लाये हो।

अनुप्रति कोचिंग योजना के दस्तावेज क्या हैं?

  • आवेदक अभ्यर्थी का आधार कार्ड
  • शपथ पत्र/ एफिडेफिट
  • निवास/ आवासीय प्रमाण पत्र
  • इनकम सर्टिफिकेट (वार्षिक आय के लिए)
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बीपीएल प्रमाण पत्र/ सर्टिफिकेट
  • मोबाइल नंबर/ Email ID
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • लाभार्थी छात्रों द्वारा दी गई प्रतियोगी परीक्षाओं के विभिन्न चरणों के प्रमाण पत्र
  • नेशनल लेवल के एजुकेशनल इंस्टीट्यूट में एडमिशन लेने के लिए पास की गई इंट्रेंस एग्जाम का प्रमाण पत्र

अनुप्रति कोचिंग योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

ऑनलाइन आवेदन :

  • अनुप्रति कोचिंग योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन राजस्थान सरकार की आधिकारिक वेबसाइट https://rajasthan.gov.in/ पर जाकर किया जा सकता हैं।
  • आवेदन करने के लिए आपको अपनी व्यक्तिगत जानकारी, शैक्षिक योग्यता, जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र आदि अपलोड करना होगा।
  • आवेदन शुल्क 100 रुपए हैं (एससी/एसटी/महिला BPL के लिए कोई शुल्क नहीं हैं।

ऑफलाइन आवेदन :

  • आप इस अनुप्रति कोचिंग योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं।
  • ऑफलाइन आवेदन पत्र राजस्थान सरकार की आधिकारिक वेबसाइट, मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की आधिकारिक वेबसाइट या नजदीकी जन सेवा केंद्र (CSC) से डाउनलोड किए जा सकते हैं।
  • आपको भरे हुए आवेदन पत्र को आवश्यक दस्तावेजों के साथ नज़दीकी जन सेवा केंद्र (CSC) या जिला शिक्षा कार्यालय में जमा करना होगा।

आवेदन करते समय ध्यान रखने योग्य बातें :

  • आवेदन करते समय सभी आवश्यक दस्तावेजों की स्केन की हुई प्रतिया तैयार रखे।
  • आवेदन पत्र में सभी जानकारी सावधानीपूर्वक भरें।
  • आवेदन शुल्क का भुगतान ऑनलाइन या ऑफलाइन माध्यम से भी किया जा सकता हैं।
  • आवेदन करने की अंतिम तारीख 31 जुलाई हैं।

यह भी पढ़े :

अनुप्रति कोचिंग योजना के लिए आवेदन कब शुरू होंगे?

अनुप्रति कोचिंग योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन जुलाई 2024 से शुरू हो सकते है और आवेदन की आखिरी तारीख 15 अगस्त 2024 (संभावित) हैं।

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना क्या है?

अनुप्रति कोचिंग योजना एक वित्तीय सहायता योजना हैं। जो राज्य के अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/ विशेष पिछड़ा वर्ग/ अन्य पिछड़ा वर्ग के होनहार छात्रों को विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करती हैं। यह योजना 2005 में शुरू की गई थी।

Leave a Comment